Content Updated On : 2021-07-24

असली खगोलशास्त्री तो
परिवार में ही होते हैं...

एक माँ जो बचपन में
चाँद दिखाती थी,

दूसरे पापा जो 1 थप्पड़ में
सारा ब्रह्मण्ड दिखा देते थे,

तीसरी पत्नी जो दिन में
तारे दिखाती है !!


*ये नासा वासा तो सिर्फ भ्रम है*

30 minutes